मुख्य सामग्री पर जाएं | स्क्रीन रीडर का उपयोग
लिपि माप:  emailid emailid emailid emailid emailid
Rajya Sabha
आप यहां हैं : [मुख पृष्ठ ]>प्रश्न >सामान्य सूचना >प्रक्रिया संबंधी नियम >प्रश्न

राज्य सभा प्रश्न और उत्तर


प्रक्रिया संबंधी नियम

अन्य विधायिकाओं की तरह, राज्य सभा ने अपने प्रक्रिया तथा कार्य-संचालन विषयक नियमों में प्रश्न पूछने संबंधी प्रक्रिया का प्रावधान किया है। राज्य सभा की प्रथम बैठक दिनांक 13 मई, 1952 को आयोजित की गई थी। परंतु, दिनांक 26 मई, 1952 तक सदन में कोई प्रश्न-काल नहीं होता था। प्रश्न पूछने और उत्तर देने के लिए पहली बार आधे घंटे का प्रावधान दिनांक 27 और 28 मई, 1952 को किया गया था। इस प्रकार, राज्य सभा में पहली बार प्रश्न दिनांक 27 मई, 1952 को रखे गए थे। सभापति, राज्य सभा ने 14 जुलाई, 1952 को नियमों में संशोधन करने की घोषणा की और इस प्रकार प्रत्येक सोमवार से बृहस्पतिवार बैठक का प्रथम घंटा प्रश्नों के लिए निर्धारित किया गया। सदन में इस प्रक्रिया की अनुपालना 21 जुलाई, 1952  से जुलाई, 1964 तक की गई। इस प्रक्रिया को शुक्रवार को शामिल करने के लिए पुन: संशोधित किया गया।
सप्ताह के पाँच दिन प्रश्नकाल मध्याह्न पूर्व 11 बजे से प्रारंभ होकर मध्याह्न 12 बजे तक चलता था। राज्य सभा में प्रक्रिया और कार्य-संचालन विषयक नियम के नियम 38 को संशोधित किए जाने के उपरांत*, राज्य सभा में प्रश्नकाल का समय मध्याह्न 12 बजे से बदलकर मध्याह्न पश्चात् 1:00 बजे तक किया गया।

प्रक्रिया संबंधी नियम के बारे में और जानकारी के लिए यहां क्लिक करें ।