मुख्य सामग्री पर जाएं | स्क्रीन रीडर का उपयोग
लिपि माप:  emailid emailid emailid emailid emailid
Rajya Sabha
आप यहां हैं:मुख पृष्ठ >प्रकियाएँ >राज्य सभा के प्रक्रिया तथा कार्य-संचालन विषयक नियम>सदस्यों को आमंत्रण, उनके बैठने की व्यवस्था, शपथ अथवा प्रतिज्ञान और सदस्यों की नामावलि

सदस्यों को आमंत्रण, उनके बैठने की व्यवस्था, शपथ अथवा प्रतिज्ञान और
सदस्यों की नामावलि

3.सदस्यों को आमंत्रण

(1) महासचिव राज्य सभा के सत्र के लिए तिथि तथा स्थान का उल्लेख करते हुए प्रत्येक सदस्य को आमंत्रण भेजेगा।
(2) जब सत्र अल्प सूचना या आपात में बुलाया जाये तो सत्र की तिथि तथा स्थान की घोषणा समाचार-पत्रों में की जा सकेगी और सदस्यों को तार द्वारा या अन्य प्रकार से सूचित किया जा सकेगा।

4. सदस्यों के बैठने की व्यवस्था

सदस्य ऐसे क्रम से बैठेंगे जिसे कि सभापति निर्धारित करे।

5. शपथ अथवा प्रतिज्ञान

जिस सदस्य ने संविधान के अनुच्छेद 99 के अनुसार शपथ नहीं ली है या प्रतिज्ञान नहीं किया है वह राज्य सभा की किसी बैठक के प्रारंभ में अथवा बैठक के किसी ऐसे अन्य समय पर जिसका कि सभापति निदेश दे, ऐसा कर सकेगा।

6. सदस्यों की नामावलि

राज्य सभा के सदस्यों की एक नामावली होगी जिस पर प्रत्येक सदस्य अपना स्थान ग्रहण करने से पूर्व, महा सचिव की उपस्थिति में हस्ताक्षर करेगा।